जिसका ना, आदि अनादी हो वह धर्म सनातन होता है

जिसका ना, आदि अनादी हो वह धर्म सनातन होता है संस्कृति सभ्यता का ये प्रतीक अब हिन्दू बन के रोता है
 क्यूंकि भारत का आर्य ही अब पाश्चात्य पार्थ सा सोता है

आगे पढ़े >>

No comments:

Powered by Blogger.