loading...
Breaking News
recent

हिन्दी के प्रति सम्मान जरूरी है - Hindi Ke Prati Samman Jaruri Hai

शहर के विभिन्न शासकीय महाविद्यालयों में हिन्दी साहित्य में स्नातकोत्तर स्तर तक पढ़ाई की व्यवस्था है। चिंता की बात है कि आम विषयों की अपेक्षा हिन्दी विषय के विद्यार्थियों की संख्या लगातार गिर रही है।

आगे पढ़े >>
loading...

No comments:

Powered by Blogger.