loading...
Breaking News
recent

लव मैरिज के लिए पैरेंट्स को ऐसे मनाएं | Let The Parents For Love Marriage In Hindi

प्यार में एक लंबा समय गुजारने के बाद क्या आप दोनों अब शादी करने बारे में सोच रहें तो इससे अच्छी बात कोई और हो ही नहीं सकती. लेकिन जितना आसान ये बोलने और सुनने में लग रहा है क्या इतना ईजी ये सचमुच में भी होगा.
यह भी पढ़े >>गर्लफ्रेंड को करना चाहते हैं खुश तो जरूर पढ़ें
अपनी पसंद से शादी करना आज ही किसी टफ टास्क से कम नहीं होता क्योंकि कोई भी माता-पिता ये नहीं चाहते कि उनका बच्चा शादी जैसे मामले में उनकी पसंद की बजाय अपनी पसंद चुने. इसलिए अपने पैरेंटस को अपने पार्टनर से मिलवाने से पहले और शादी की बात करने से पहले कुछ जरूरी का ध्यान रखना बहुत जरूरी है.
यह भी पढ़े >>कैसे पहचानें कि कोई आपसे प्यार कर रहा है
 
lovemariggee  

Love Marriage Karne Ke Liye Family Ko Kaise Manaye

इन अहम बातों का ध्यान रखकर परिवार वालों को मानने की इस राह में थोड़ी आसानी जरूर हो सकती है.
यह भी पढ़े >>हनीमून के बाद ध्यान रखें इन बातों का
1. परिवार में जो आपके सबसे करीब हो उसे इस बात के बारे में बताएं जैसे, कई लोग अपने भाई या बहन से बहुत क्लोज होते हैं तो कुछ लोग आपनी भाभी को अपना राजदार बनाते हैं. अगर आपके साथ भी ऐसा कुछ है तो पहले अपने उस फैमिली मेंबर से राय मशवरा कर लें ताकि वह आपके पैरेंट्स को राजी करने में आपकी मदद कर सके.
2. अगर आप शादी करने का पूरा मन बना चुके हैं तो समय-समय पर अपने पैरेंट्स के सामने ऐसी कुछ-कुछ बातें करते रहें ताकि उन्हें आपके मन की बात पता चलती रहे.
3. पार्टनर को अपने पैरेंट्स से पहले एक अच्छे दोस्त की तरह ही मिलवाएं ताकि वह आपके घरवालों के साथ थोड़ा घुलमिल जाए. ऐसा करते समय इस बात का जरूर ध्यान रखें कि इस दौरान आप हर जरूरी बात को भी पार्टनर और घरवालों के साथ शेयर करें ताकि उनके बीच बॉन्डिंग बन सके.
4. जब भी मौका मिले, बातों-बातों में अपने उस अच्छे दोस्त की बातें करते रहें.
5. धैर्य बनाए रखना बहुत जरूरी है कयोंकि कई बार हो सकता है कि आपके पैरेंट्स आपकी बात समझ कर भी इग्नोर कर दें. ऐसे में हर संभव कोशिश करके उन्हें अपनी बात समझाने का प्रयास करते रहें.
6. अब जब आप अपने पार्टनर के बारे में घर पर सबकुछ बता चुके हैं तो घरवालों को अपने पाटर्नर की अच्छी बातों के बारे में बताएं क्योंकि रंग रूप और जातपात आज भी घरों में अपनी जड़ें रखता है. किसी भी परिवार के लिए अपने बच्चे की शादी एक भावनात्मक फैसला होता है जो वे लेना चाहते हैं. इसलिए उनकी भावनाओं का ख्याल रखना भी आपकी जिम्मेदारी है.
7. जब भी घर पर लव मैरिज को लेकर बहस हो तो कुछ अच्छी और सफल शादियों के उदाहरण पेश करना न भूलें.
यह भी पढ़े >>साथी का रूप नहीं, गुण देखना सीखें
loading...

No comments:

Powered by Blogger.