loading...
Breaking News
recent

सर्जिकल स्ट्राइक क्या होती है ? | Surgical Strike By Indian Army In Hindi

What is a Surgical Strike In Hindi : सर्जिकल स्ट्राइक होती क्या है। सर्जिकल स्ट्राइक यानी दुश्मन को उसी के घर में घुसकर मार गिराना। ऐसे हमले बड़े पैमाने पर नुकसान पहुंचाने के लिए नहीं बल्कि सीमित दायरे में मौजूद दुश्मन को मार गिराने के लिए किए जाते हैं। आपको बताते है कि आखिर क्या होता है सर्जिकल स्ट्राइक ?
Surgical Strike By Indian Army In Hindi
 
सर्जिकल स्ट्राइक क्या होती है ? | Surgical Strike Kya Hoti Hai

इसमें सेना की कोशिश होती है कि कम से कम नुकसान हो। खासतौर पर यह ऑपरेशन किसी कैंप या बिल्‍िडंग को तहस-नहस करने के लिए बनाया जाता है।

भारतीय सेना ने भी बार्डर के पास बने आतंकी कैंपो पर हमला किया और वहां मौजूद सभी आतंकियों को मार गिराया।

भारतीय सेना Pok में करीब तीन किमी अंदर घुसकर यह ऑपरेशन करके आई है। यह ऑपरेशन हमेशा रात में ही होता है ताकि दुश्‍मन पहचान न सके।भानगढ़ किले का रहस्य और इतिहास

खबरों की मानें तो सेना ने कुल 7 टेरर कैंपों पर हमला किया और वहां मौजूद सभी आतंकियों को मौत के घाट उतारा।

इससे पहले भारतीय सेना ने म्‍यांमार में भी सीमा पार कर 38 उग्रवादियों का सफाया किया था।

जिस जगह हमला होना है उसकी पूरी जानकारी जुटाई जाती है।
- उसी के हिसाब से हमले की प्लानिंग की जाती है।
- सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम देने के लिए कमांडो दस्ता तैयार किया जाता है।
- इसके बाद बहुत ही गोपनीय तरीके से कमांडो दस्ते को टार्गेट तक पहुंचाया जाता है।
- फिर होता है दुश्मन पर चौतरफा हमला।
- दुश्मन को संभलने के मौका दिए बगैर उसे घेरकर वहीं तबाह कर दिया जाता है।
- हमले को अंजाम देने के बाद कमांडो जिस तेज़ी से गए थे उसी तेज़ी से वापस लौट आते हैं।
- सर्जिकल स्ट्राइक के दौरान इस बात का ख़ास ख़्याल रखा जाता है कि आसपास रहने वाले लोगों, इमारतों और गाड़ियों को कोई नुकसान नहीं पहुंचे।
  राजस्थान में है भूतों का गांव : जानिए कुलधरा गांव का इतिहास
इससे पहले कब हुआ सर्जिकल स्ट्राइक?
- NSCN के आतंकियों ने 4 जून 2015 को मणिपुर के चंदेल में फौज की टुकड़ी पर हमला किया था।
- इस आतंकी हमले में 18 जवान शहीद हुए थे।
- 10 जून 2015 को इस हमले का बदला लेने के लिए भारतीय जवानों ने म्यांमार की सीमा में घुसकर सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया था।
- तब फौज ने म्यांमार में दाखिल होकर आतंकी संगठन NSCN के टेरर कैंप को तबाह किया था।
जब भी सर्जिकल स्ट्राइक का नाम आएगा। अमेरिका के सबसे बड़े बदले का नाम सामने आएगा। वो बदला जो उसने अपने सबसे बड़े दुश्मन ओसामा बिन लादेन को मारकर लिया था। ये वो बदला था जिसके लिए दुनिया का सबसे ताकतवर मुल्क अमेरिका 10 साल तक तड़पता रहा। आत्माओं से बात करने के सरल तरीके आप भी जानिए

11 सितंबर 2001 को लादेन के आतंकी संगठन अल क़ायदा के आतंकियों ने न्यूयॉर्क के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर की दो इमारतों को अगवा किए गए विमान से उड़ा दिया। 15 साल पुरानी इन तस्वीरों ने पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया था। दुनिया के सबसे बर्बर आतंकी हमले में करीब 3 हजार लोग मारे गए थे... 9/11 हमले के बाद से अमेरिकी खुफिया एजेंसियां पागलों की तरह ओसामा बिन लादेन की तलाश में जुट गईं। भूत-प्रेत क्या होते हैं ?

10 साल बाद पता चला कि ओसामा बिन लादेन पाकिस्तान के एबटाबाद में छिपा बैठा है। इसके बाद अमेरिका ने अपने सबसे बड़े दुश्मन को खत्म करने के लिए सर्जिकल स्ट्राइक की खुफिया रणनीति बनाई।

अमेरिका के सबसे खतरनाक कमांडो कहे जाने वाले सील की टुकड़ी दो हेलीकॉप्टर में सवार होकर रात के अंधेरे में एबटाबाद पहुंची। इसके बाद थोड़ी देर तक लादेन का मकान गोलियों और बमों की तड़तड़ाहट से थर्राता रहा। गोलियों की आवाज़ तभी थमी जब अमेरिकी फौज ने लादेन को मार गिराया। इसके बाद अमेरिकी कमांडो जैसे आए थे, वैसे ही लौट गए।

 सर्जिकल ऑपरेशन का सबसे बेहतर उदाहरण साल 2003 का है। यूएस की आर्मी ने बगदाद में कई ठिकानों पर सर्जिकल ऑपरेशन चलाए थे। इसमें यूएस की सेना ने सिर्फ वहां की सरकारी बिल्‍डिंगों और मिलिट्री कैंपो को निशाना बनाया था।नवरात्रि स्पेशल : दुर्गा पूजा महोत्सव सरदारशहर
loading...

No comments:

Powered by Blogger.