राजस्थान: सचिन पायलट खेमे के नेता ने की गहलोत पर टिप्पणी

राजस्थान चुनावों के परिणाम अभी नहीं आए हैं लेकिन सीएम पद की रेस को लेकर सचिन पायलट और अशोक गहलोत के खेमे के बीच की तकरार सामने आने लगी है। दरअसल वोटिंग के बाद तमाम एग्जिट पोल्स के मुताबिक कांग्रेस राज्य में सरकार बनाते हुए दिख रही है। यही वजह है कि दोनों पक्ष अपनी दावेदारी को मजबूत बनाने में जुट गया है। इसी क्रम में जयपुर सिविल लाइंस से कांग्रेस प्रत्याशी और जयपुर शहर जिला कांग्रेस के अध्यक्ष प्रताप सिंह खाचरियावास के पूर्व सीएम अशोक गहलोत को लेकर दिए गए विवादित बयान ने सूबे की राजनीतिक हलचल बढ़ा दी है। 


शनिवार को वायरल हुए एक विडियो में खाचरियावास कह रहे हैं, 'हमारे नेता राहुल गांधी हैं, वह जो कहेंगे वह फैसला हमें मंजूर होगा। मैंने समाचार पत्रों में पढ़ा कि गहलोत साहब ने मुख्यमंत्री पद के लिए पांच लोगों के नाम दिए हैं। वह सीनियर लीडर हैं, मैं उनका सम्मान करता हूं लेकिन इस बारे में वह फैसला नहीं कर सकते। मुख्यमंत्री कौन होगा, इस पर राहुल गांधी और विधाई समिति फैसला लेगी।' 

गहलोत खेमे में हलचल बढ़ी 
खाचरियावास का बयान आने के बाद गहलोत खेमे में भी हलचल मच गई है। खाचरियावास पीसीसी अध्यक्ष सचिन पायलट के काफी करीबी माने जाते हैं। वसुंधरा के खिलाफ राज्य में हुए कई आंदोलनों में वह पायलट के साथ ही खड़े नजर आए हैं। वहीं, इस बारे में जब हमारे सहयोगी समाचार पत्र टाइम्स ऑफ इंडिया ने खाचरियावास से बात की तो उन्होंने कहा, 'मेरा बयान किसी व्यक्ति विशेष के खिलाफ नहीं था, मैं सिर्फ फैक्ट्स बता रहा था।' 

दूसरी ओर शनिवार को दिल्ली में अशोक गहलोत ने भी कांग्रेस नेता खाचरियावास के बयान पर कहा कि उन्होंने कुछ गलत नहीं कहा है। गहलोत ने कहा, 'उनके (खाचरियावास के) बयान में कुछ भी गलत नहीं है। मैं किसी को मुख्यमंत्री कैसे बना सकता हूं? मैंने कभी ऐसा दावा भी नहीं किया। इस बारे में राहुल गांधी और पार्टी आलाकमान फैसला लेंगे।' 

No comments:

Powered by Blogger.