गणपति स्थापना के शुभ मुहूर्त | Ganesh Sthapana Vidhi or Muhurat In Hindi

गौरीपुत्र, गजानंद, शिवसुताय, विघ्नहर्ता गणेशजी की स्थापना भाद्रपद शुक्ल चतुर्थी को की जाती है। गणेश चतुर्थी के दिन ही भगवान गणेश का जन्म हुआ था। प्रत्येक वर्ष हम इस उत्सव को भाद्रपद शुक्ल चतुर्थी से भाद्रपद चतुर्दशी तक मनाते हैं। इस वर्ष सोमवार, 5 सितंबर को गणेशजी की स्थापना होगी व 15 सितंबर को विसर्जन होगा।
भारत के रहस्यमय मंदिर

 
 
जानिए श्री गणपति स्थापना के शुभ मुहूर्त 
Ganesh Sthapana Vidhi In Hindi  2016

Ganpati ji ki Sthapana Kaise Kare or Kab Kare :-

 चौघड़िया अनुसार

प्रात: 6.12 से 7.45 अमृत
प्रात:  9.18 से 10.52 शुभ
दोपहर 3.32 से 5.06 लाभ
शाम 5.06 से 6.39 अमृत
रात्रि 11.59 से 12.25 लाभ  लग्नानुसार मुहूर्त
प्रात: 4.47 से 7.09 सिंह लग्न
प्रात: 7.09 से 9.19 कन्या लग्न
दोपहर 1.59 से 3.55 धनु लग्न
शाम 5.43 से 7.18 कुंभ लग्न
रात्रि 8.49 से 10.30 मेष लग्न
रात्रि 10.30 से 12.24 वृषभ लग्न  ब्रह्म मुहूर्त 6.11 मिनट 32 सेकंड,
गोधूलि वेला 6.39 मिनट 6 सेकंड  सर्वश्रेष्ठ सर्वार्थ सिद्धि अभिजीत योग –  दोपहर 12.00 से 12.50 तक 

 विशेष : ब्रह्म मुहूर्त, अभिजीत योग एवं गोधूलि वेला सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त होते हैं। इसमें गणेशजी की हुई स्थापना अवश्य सफल होती है। 
मरते वक़्त रावण ने लक्ष्मण को बताई थी ये 3 बातें

Loading...

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *