यह कहलाता है ‘स्वर्ग का दरवाजा’ | Heavens Gate Mountain China Hindi History

Heaven’s Gate Mountain, China : दुनियाभर में कई ऐसे
अमेजिंग प्लेसेस हैं, जिनके बारे में जानकर हैरत होती है। ऐसी जगहें लोगों
को भी खूब लुभाती हैं। इनमें से कुछ को जहां इंसानों ने अपनी मेहनत बनाया
है, वहीं कुछ को नेचर ने अपने अंदाज में गढ़ा है।

Image result for स्वर्ग का दरवाजा 
यह कहलाता है ‘स्वर्ग का दरवाजा’ | Heavens Gate Mountain China Hindi History

ऐसा ही एक प्लेस चीन का तियानमेन माउंटेन है, जो वहां का प्रमुख टूरिस्ट
अट्रैक्शन भी है। दरअसल, 1518 मीटर ऊंचे (लगभग 5 हजार फीट) इस पहाड़ पर
दुनिया की सबसे ऊंची गुफा है। इस गुफा को स्वर्ग का दरवाजा भी कहा जाता है।

 पांच पौराणिक पात्र जो रामायण और महाभारत, दोनों समय थे उपस्तिथ

बताया जाता है कि 253 ईस्वी में पहाड़ का कुछ हिस्सा टूट गया, जिससे इस
गुफा का निर्माण हुआ था। इसकी लंबाई 196 फीट, ऊंचाई 431 फीट तथा चौड़ाई 187
फीट है।

62

लगभग 5 हजार फीट की ऊंचाई पर होने की वजह से ये गुफा बादलों के बीच घिरा
रहता है। संभवत: इस कारण से लोग इसे स्वर्ग का दरवाजा कहने लगे।

टूरिस्ट यहां जाने के लिए सड़क के अलावा केबल वे का उपयोग भी करते हैं।
दुनिया का सबसे लंबा (24459 फीट) और ऊंचाई पर बने इस केबल वे का नाम गिनीज
बुक्स ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज है।

केबल वे और सड़कों से उतरने के बाद लोग 999 सीढ़ियां चढ़कर गुफा तक पहुंचते
हैं। ताओ फिलॉसिफी के मुताबिक, ये 999 स्टेप सुप्रीम नंबर है और सम्राट का
प्रतीक है।

Image result for स्वर्ग का दरवाजा

20वीं शताब्दी में तियानमेन माउंटेन के पास एक वाटरफॉल भी था, जो कि सिर्फ
15 मिनट के लिए ही दिखाई देता था। इसके बाद गायब हो जाता था। इसका पानी
1500 मीटर की ऊंचाई से सीधे नीचे गिरता था। हालांकि, अब इस वाटरफॉल का कोई
नामोनिशान नहीं है।

 2055 में फिर से दिखेंगे हनुमान जी

वहीं, इस माउंटेन के बारे में ये भी कहा जाता है कि यहां पर काफी खजाने
छुपे हुए हैं। इसे ढूंढने की कोशिश भी कई लोगों ने की, लेकिन वे असफल रहे।
यहां बौद्ध मठ भी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *