इस बात’ को सचिन तेंदुलकर ने वनडे क्रिकेट के लिए भयावह करार दिया

इस बात’ को सचिन तेंदुलकर ने वनडे क्रिकेट के लिए भयावह करार दिया

वैसे बात सही है कि वनडे या टी-20 क्रिकेट में हो रही झमाझम रनों की बारिश के बीच गेंदबाजों के दर्द को समझने वाला यहां कोई नहीं है. हाल ही में आपने देखा कि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए वनडे मुकाबले में करीब-करीब पांच सौ के आंकड़े को छू ही लिया था. संभवत: सचिन का दर्द इसी बात से बाहर निकल कर आया है. और अब उन्होंने गेंदबाजों के समर्थन में बयान दिया है

सचिन तेंदुलकर जब भी बोलते हैं, तो बात पते की बोलते हैं. खिलाड़ियों के बारे में तो आए दिन सचिन बोलते रहते हैं, लेकिन संपूर्ण खेल के लिहाज से सचिन कभी-कभी ही कुछ कहते हैं. आप भूले नहीं होंगे कि जब सालों पहले सचिन ने पचास-पचास ओवरों के वनडे मैच को दो पारियों में कराए जाने का सुझाव दिया था. हालांकि आईसीसी ने उस समय सचिन के प्रस्ताव को सिरे से नकार दिया था. बहरहाल सचिन ने अब सुझाव नहीं दिया बल्कि कड़ी आलोचना की है. अब देखने की बात यह होगी कि आईसीसी पर सचिन तेंदुलकर की आलोचना का का कितना असर पड़ता है.

वैसे बात सही है कि वनडे या टी-20 क्रिकेट में हो रही झमाझम रनों की बारिश के बीच गेंदबाजों के दर्द को समझने वाला यहां कोई नहीं है. हाल ही में आपने देखा कि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए वनडे मुकाबले में करीब-करीब पांच सौ के आंकड़े को छू ही लिया था. संभवत: सचिन का दर्द इसी बात से बाहर निकल कर आया है. और अब उन्होंने गेंदबाजों के समर्थन में बयान दिया है.

सचिन ने कहा है कि इन दिनों वनडे क्रिकेट में गेंद को रिवर्स स्विंग होने का समय नहीं मिलता. वास्तव में सालों पहले गेंद को रिवर्स स्विंग होने का पूरा-पूरा समय मिलता था. मुकाबले भी लाल गेंद से होते थे. गेंद की सीम उभरी हुई होती थी. लेकिन जब से सफेद गेंद आई, तो मानो रिवर्स स्विंग ही गधे के सिर से सींग की तरह गायब हो गई. वहीं रात के मुकाबलों में रिवर्स स्विंग की बात ही सोचना बेमानी है. लेकिन इससे इतर सचिन का दर्द एक अलग बात के लिए है, जिसके कारण रिवर्स स्विंग एलिमेंट वनडे क्रिकेट से गायब हो गया है.

सचिन ने अपनी ट्विवटर पर विचार साझा करते हुए कहा कि वनडे में दो नई गेंदों का इस्तेमाल बहुत ही भयावह है. और इस बात ने रिवर्स स्विंग को पूरी तरह खत्म कर दिया है. सचिन ने कहा कि इसके कारण डेथ ओवर (आखिरी 10 ओवर) के दौरान फेंके जाने वाले ओवरों में रिवर्स स्विंग उन्होंने पिछले कई सालों से नहीं देखी. सचिन ने बात कह दी है. देखते हैं कि आईसीसी सुनती है या नहीं

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *