Coronavirus : डोनाल्ड ट्रम्प समेत 30 देशों ने भारत से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा मांगी

Coronavirus 30 Countries Including us Sought Hydroxychloroquine Medicine From India - अमेरिका समते 30 देशों ने भारत से मदद मांगी - जिस मलेरिया की दवाई की बात डोनाल्ड ट्रम्प बार - बार करते आए है। वह दवाई भारत में बड़े पैमाने पर बनाई जाती है। वैसे अभी तक इस दवाई पर पूरा रिसर्च नहीं हो पाया है की ये कोरोना वायरस को खत्म कर सकती है। (Donald Trump Hydroxychloroquine Medicine)

Corona Virus Medicine Hydroxychloroquine

डोनाल्ड ट्रम्प ने दी भारत को चेतावनी 
ऐसे में अमेरिका राष्ट्पति डोनाल्ड ट्रम्प भारत से इस दवाई की मांग कर रहे है। और उन्होंने तो यहाँ तक बोल दिया की अगर सही समय में दवाई न मुहिया करवाई गयी तो भारत पर जवाबी करवाई होगी।

आज पूरा विश्व जनता है की अमेरिका के हालात कितने खराब हो गए है। 10,000  से ज्यादा लोगो की वहाँ कोरोना वायरस के कारण जान जा चुकी है। और साथ ही साथ 3,00,000 के करीब वहाँ कोरोना के मरीज है। जिस प्रकार पुरे भारत को यहाँ की सरकार ने सही समय पर लॉकडाउन कर दिया था। अमेरिका ने ऐसा सही समय पर कुछ भी कदम नहीं उठाया। ऐसे में आज अमेरिका के अस्पताल कोरोना पीड़ितों से भरे हुए है।

अमेरिका को चहिए भारत से मलेरियां की दवा 
कोरोना की वेक्सीन अभी तक तैयार नहीं हो पाई  है ऐसे में अमेरिका समेत 30 ऐसे देश है जिसने भारत से  ( Hydroxychloroquine ) हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा की मांग की है।

 डोनाल्ड ट्रम्प समेत 30 देशों ने भारत से हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्वीन दवा मांगी 

अमेरिका में कोरोना महामारी का कहर 
अब भारत इस दवाई को कब और किन - किन देशो में सप्लाई करेगा इसका निर्णय भारत सरकार के हाथों में है। इससे पहले डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से मदद की गुहार भी लगाई थी। भारत सभी देशो के साथ पहले भी था और आज इस संकट की घड़ी में भी है। ऐसे में उन देशों को अपनी सूझबूझ से भारत से बात करनी चहिए न की धमकी के लहजे में बात करें।

भारत के प्रधानमंत्री से की ट्रम्प ने फोन पर बात 
ट्रंप ने कहा कि भारत और अमेरिका के बीच अच्‍छे व्‍यापारिक संबंध हैं और संकेत दिया कि यदि भारत ने दवा के निर्यात पर से प्रतिबंध नहीं हटाया तो हम जवाबी कार्रवाई कर सकते हैं। इससे पहले डोनाल्ड ट्रंप ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात कर कोरोना से लड़ने के लिए सहयोग की मांग की थी। मलेरिया जैसी खतरनाक बीमारी से लड़ने में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वाइन (Hydroxychloroquine) बेहद कारगर दवा है।

नोट - डॉक्टर की सहमति के बिना इस दवा का कोई भी इस्तमाल न करें इससे रोगी की मृत्यु भी हो सकती है। कोई भी दवाई लेने से पहले अपने नजदीकी डॉक्टर की सलाह जरूर ले। 

टिप्पणी पोस्ट करें

[blogger]

MKRdezign

संपर्क फ़ॉर्म

नाम

ईमेल *

संदेश *

Blogger द्वारा संचालित.
Javascript DisablePlease Enable Javascript To See All Widget