प्रधानमन्त्री गरीब कल्याण योजना अभियान | Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan Yojana in Hindi



प्रधानमन्त्री गरीब कल्याण योजना अभियान | Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan Yojana in Hindi - प्रधानमन्त्री गरीब कल्याण योजना अभियान भारत के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू किया गया एक अभियान है . जिसके अंतर्गत Covid - 19 के कारण शहरों से गावों की तरफ अपने घर लोट रहे लाखों प्रवासी कामगारों को रोजगार प्रधान करना है . इसके लिए प्रधानमन्त्री ने रोजगार के अवसर पैदा करने के लिए 50,000 करोड़ रूपये की राशी गरीब श्रमिकों को समर्पित की है .
 Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan Yojana in Hindi

प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी जी ने इस योजना की 20 जून 2020 से शुरुआत कर दी है . गरीब कल्याण योजना अभियान को सर्वप्रथम बिहार के खगड़िया जिले के तेलिहार गांव से लॉन्च किया गया है। यह योजना बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, झारखंड और ओडिशा जैसे छह राज्यों में 116 जिलों में 125 दिनों के लिए चलाई जाएगी। बारह अलग-अलग मंत्रालय या विभाग कार्यक्रम को लागू करने के लिए कार्य करेंगे।

Covid - 19 महामारी के कारण लाखों बेरोजगार 
महामारी कोरोना ने भारत के सभी तबके के लोगो पर अपना दुष्प्रभाव डाला है . इस महामारी के कारण सबसे ज्यादा प्रतिदिन काम करके कमा कर खाने वाले मजदूर प्रभावित और परेशान हुए है . इन लाखों मजदूरों को अब प्रधानमन्त्री की इस योजना से एक नई उमीद जगी है .

गावों की और लोटे मजदूरों को रोजगार 
बहुत बड़ी संख्या में प्रवासी कामगार-श्रमिक कई प्रदेशों में वापस आए हैं। ऐसे में श्रमिकों के लिए रोजगार सृजन व देश के पिछड़े हुए क्षेत्रों में ढांचागत सुविधाओं के विकास के लिए 20 जून 2020 को 'गरीब कल्याण रोजगार अभियान' शुरुआत की गई है .

Garib Kalyan Rojgar Abhiyaan Yojana in details Hindi

 योजना का नाम   गरीब कल्याण अभियान 
 सर्वप्रथम घोषणा  वित् मंत्री निर्मला सीतारमण के द्वारा  
 योजना की शुरुआत  प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा  
 शुरू होने की तिथि  20 जून 2020 सुबह 11 बजे 
 योजना का उद्देश्य  गरीब श्रमिकों के लिए रोजगार 
 योजना की अवधि  125 दिनों के लिए 

उत्तर प्रदेश सरकार की पहल
उत्तर प्रदेश सरकार ने 'गरीब कल्याण रोजगार अभियान' के रूप में एक ऐसी अद्वितीय पहल की शुरुआत की है, जो भारत सरकार और प्रदेश सरकार के कार्यक्रमों को उद्योगों और अन्य संगठनों के साथ साझेदारी करते हुए सम्मिलित रूप से आगे बढ़ा रही है। इस अभियान के तहत रोजगार प्रदान करने, स्थानीय उद्यमिता को प्रोत्साहन देने व औद्योगिक संघों के साथ साझेदारियां कर अन्य संगठनों के साथ मिलकर रोजगार के अवसरों को आगे बढ़ाया जाएगा।

No comments:

Post a Comment