Madhushala Search Anything....



मात्र 1 दिन में चीन को अरबों का नुकसान | China Stock Market Down | Chinese Apps Banned in India

China Stock Market Down - कोरोना काल में सभी देश चीन की इस महामारी Covid-19 से पहले ही परेशान है ऊपर से चीन सभी सीमाव्रती देशों का बॉडर पार कर घुसपेट की कोशिश बार - बार कर रहा है। ऐसे में एक गलती चीन ने भारत के साथ भी कर दी है। चीन ने भारत के बहुत से जवानों को अपनी चालबाजी और धोखे से बंदी बना कर नुकसान पहुंचाया है। बड़े - बड़े देशो की जाँच विभाग ने भी इसकी पुस्टि की है की यह चीन की पहले से बनाई रणनीति थी जिसके तहत उसने यह सब किया था। 
 China Stock Market Down | Chinese Apps Banned in India

इधर इस घटना के बाद पूरा देश गुस्से में है। चीनी समानो को देश भर के कोने - कोने में जलाया जा रहा है इनका बहिष्कार किया जा रहा है। इधर भारत सरकार ने भी बड़ा फैसला लेते हुए चीन के भारत में बहुत ज्यादा चलने वाले 59 ऍप्लिकेशन को बैन कर दिया है। जिससे चीन बौखला गया है और भारत की कुछ कम्पनियो को भी चीन में बैन करने का निर्णय लिया गया है। 

इसके आलावा भारत चीन से सबसे ज्यादा इलेक्टॉनिक समान भी खरीदता है। हम चीन से करीब 34 फीसदी इलेक्ट्रिक सामान मंगाते हैं. इलेक्ट्रिक सामानों के अलावा न्यूक्लियर रिएक्टर और मशीनरी चीन से मंगाई जाती है. इसकी संख्या करीब 18 फीसदी है. चीन से हम 10 फीसदी ऑर्गेनिक केमिकल्स मंगाते हैं.इसके अलावा चीन से हम करीब 6 फीसदी माणिक और जेवरात मंगाते हैं, लोहा और इस्पात करीब 4 फीसदी मंगाते हैं. चीन से हम 4 फीसदी प्लास्टिक के सामान मंगाते हैं, जबकि बाकी के अन्य 24 फीसदी सामान हैं जो हम चीन से मंगाते हैं. वित्त वर्ष 2017-18 में भारत ने 507 अरब डॉलर का आयात किया था. इसमें चीन की हिस्सेदरी 14 फीसदी यानी 73 अरब डॉलर थी.


ऐसे में अब देश में चीन के प्रति आक्रोश है तो चीनी समानो की खरीदारी में काफी गिरावट आई है। आपकी जानकारी के लिए बता दे की मात्र दिल्ली एनसीआर में ही चीनी मोबाइल की बिक्री 70 फीसदी कम हो गई है। देश भर में चीनी समानो की होली जलाई जा रही है। 

कोलकाता में जोमैटो में काम करने वाले कर्मचारियों ने समूह में इस्तीफा दे दिया, उन्होंने एक साथ जोमैटो वाली टीशर्ट को सड़क पर फूंक दिया और चीन के खिलाफ जोरदार नारेबाजी की है। चीन के खिलाफ हुंकार भरते हुए कहा कि न चीनी सामान खरीदेंगे , न चीनी सामान बेचेंगे. इस बार की दीवाली में चीनी सामान नहीं खरीदेंगे. मिट्टी के दीये जलाएंगे, स्वदेशी दीवाली मनाएंगे

चीन की हर कंम्पनी भारत से रोज लाखो - करोड़ो कमा रही है ऐसे में मात्र 1 दिन में चीन को अब अरबों का नुकसान हुआ है और आगे यह और ज्यादा होगा।