ग्रीनलैण्ड के बारे में रोचक तथ्य || Interesting Facts about Greenland in Hindi



ग्रीनलैण्ड के बारे में रोचक तथ्य ||  Interesting Facts about Greenland in Hindi - Greenland Facts in Hindi - दोस्तों आज हम बात करने वाले है दुनियाँ के सबसे खूबसूरत देश ग्रीनलैण्ड के बारे में दरसल ग्रीनलैण्ड एक ऐसा देश है जो नॉर्थ अमेरिका में होने के बावजूद भी यूरोप का हिस्सा माना जाता है। यहाँ की सबसे बड़ी सिटी न्युक (NUUK) है। 

Greenland Population
दोस्तों यह कमाल का देश 21 लाख 66 हजार और 86 स्क्वायर किलोमीटर में फैला हुआ है।  इस देश की पॉपुलेशन 57 हजार के आस - पास है। दूसरे देशो की तरह ग्रीनलैण्ड एक स्वतंत्र देश बिल्कुल भी नहीं है और यहाँ की अलग सरकार होने के बावजूद भी ये डेनमार्क का ही हिस्सा है और इसी वजह से इस देश में डेनमार्क की ही करेंसी चलती है। Greenland in Hindi
 Interesting Facts about Greenland in Hindi 

Greenland Tourism
1946 के साल अमेरिका ने ग्रीनलैण्ड को खरीदना चाहा मगर डेनमार्क ने इसे बेचने से पूरी तरह इनकार कर दिया। दोस्तों ग्रीनलैण्ड यह नाम सुनते ही आपके मन में आता होगा की यह बहुत ही हरियाली और ग्रिनरी वाला देश होगा लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है। असल में यह देश 85 % पूरी तरह से बर्फ से ढका हुआ है और इसके ज्यादा तर इलाको में आपको पूरी तरह से सिर्फ बर्फ ही देखने को मिलेगी। यही वजह है की इस देश की खूबसूरती आपके मन को लुभा जाएगी। 


Greenland Hindi - यहाँ पर मौजूद कमाल के ग्लेशियर और बर्फीली नदियाँ आपको बहुत ही ज्यादा सुंदर लगेंगी और यहाँ आप पूरी तरह से प्राकृतिक सुंदरता का आनंद भी ले सकते हो। यहाँ का ज्यादा तर हिस्सा पूरी तरह से बर्फ से ढका हुआ है और यही वजह है की यहाँ पर रोड की व्यवस्ता काफी ज्यादा कम है। यह एक ऐसा कमाल का देश है जहाँ कोई भी रेलवे सिस्टम मौजूद नहीं है। यहाँ पर ज्यादा तर लोग हेलीकॉप्टर या बोट के जरिए ही अपना सफर करते है। 

रोड काफी ज्यादा कम होने के कारण ही यहाँ कार की संख्या बहुत कम है। पुरे देश में केवल 2 हजार कार ही मौजूद है। इस देश की एक और खास बात के कारण यहाँ दूर - दूर से सैलानी घूमने आते है। नॉर्वे और आइसलेंड की तरह यहाँ भी रात को सूरज नहीं डूबता है। इसके अलावा सर्दियों के मौसम में डिफरेंट टाइप के कलर यहाँ आप आसमान में देख सकते हो। 


यहाँ के लोगो का रहन सहन काफी ज्यादा अच्छा है और उनकी मेन इनकम फिश एक्पोrt होती है। ग्रीनलैण्ड में काफी ज्यादा कीमती पत्थर भी पाए जाते है जिनकी कीमत सोने से भी कई अधिक है। यहाँ के कल्चर में डेनमार्क के कल्चर का काफी ज्यादा प्रभाव भी देखने को मिलता है। दोस्तों हर साल इस खूबसूरत शहर को देखने लाखो टूरिस्ट यहाँ घूमने आते है। 

खोज का इतिहास - ग्रीनलैंड की खोज 10वीं शताब्दी के पूर्वार्ध में नार्समेन के द्वारा हुई थी, और उनके कुछ उपनिवेश बने थे, लेकिन वे थोड़े समय में ही नष्ट हो गए। उत्तरी-पश्चिमी जलमार्ग की खोज के संबंध में इस द्वीप की पुन: खोज हुई और जॉन डेविस की यात्राओं से सन्‌ 1585-88 में द्वीप के पश्चिमी किनारे का पता चला। सन्‌ 1607 में हडसन ने पूर्वी किनारा भी देखा था। किंतु सन्‌ 1907 में यहाँ डेनिश सरकार की स्थापना हुई। सन्‌ 1852-1902 तक की विभिन्न यात्राओं से पश्चिमी तटीय प्रदेशों की खोज की गई तथा स्कोरेसबी नामक पिता पुत्र ने सन्‌ 1817-22 तक पूर्वी तटीय भागों का ज्ञान प्राप्त किया। यह खोज बाद में विभिन्न व्यक्तियों द्वारा सन्‌ 1907 तक जारी रही।

तो यह थी बहुत ही कमाल के देश ग्रीनलैण्ड के बारे में जानकारी, मिलते है दोस्तों एक नई जानकारी के साथ तब तक के लिए नमस्कार ..!!

No comments:

Post a Comment