Krishna Janmashtami 2021 : श्री कृष्ण भगवान से जुडी 12 रहस्यमयी बातें जो कोई नहीं जानता - Bhagwan Shri Krishna in Hindi | Mystery of Lord Krishna



Happy Krishna Janmashtami 2021 - कृष्ण अलौकिक हैं और इनके जन्मदिन यानी जन्माष्टमी को भी अलौकिक तरीके से मनाया जाता है।   दुनिया भर के कृष्ण मंदिरों में जन्माष्टमी बहुत धूम-धाम से मनाई जाती है और हो भी क्यों न हिंदू धर्म के सबसे नटखट माने जाने भगवान का जन्मदिन जो रहता है।  


कृष्ण जन्मोत्सव - Krishna Janmashtami in Hindi



कृष्ण जन्माष्टमी के इस पावन अवसर पर आईये जानते है भगवान श्री कृष्ण के जीवन से जुड़े 12 ऐसे अजीबो - गरीब तथ्य जिसे जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे।  


कृष्ण जन्माष्टमी की बधाई


श्रीकृष्ण भगवान विष्णु के 8वें अवतार और हिन्दू धर्म के ईश्वर माने जाते हैं। कन्हैया, श्याम, गोपाल, केशव, द्वारकेश या द्वारकाधीश, वासुदेव आदि नामों से भी उनको जाना जाता हैं। कृष्ण निष्काम कर्मयोगी, एक आदर्श दार्शनिक, स्थितप्रज्ञ एवं दैवी संपदाओं से सुसज्ज महान पुरुष थे। उनका जन्म द्वापरयुग में हुआ था। उनको इस युग के सर्वश्रेष्ठ पुरुष युगपुरुष या युगावतार का स्थान दिया गया है।


यह भी पढ़े - कृष्ण जन्माष्टमी SMS in Hindi

 

भगवान श्री कृष्ण Bhagwan Shri Krishna


1. भगवान श्री कृष्ण की परदादी 'मारिषा' व सौतेली मां रोहिणी (बलराम की मां) 'नाग' जनजाति की थीं। 


2. भगवान श्री कृष्ण की जगह जेल में बदली गई यशोदा की पुत्री का नाम एकानंशा था, जो आज विंध्यवासिनी देवी के नाम से पूजी जातीं हैं। 


3. भगवान श्री कृष्ण की प्रेमिका का नाम सिर्फ ब्रह्मवैवर्त पुराण, गीत गोविंद व प्रचलित जनश्रुतियों में ही है। राधा रानी का नाम महाभारत, हरिवंशपुराण, विष्णुपुराण व भागवतपुराण में एक बार भी नहीं है। 


4. देवी राधिका भगवान श्री कृष्ण के जीवन का सबसे बड़ा रहस्य है यह कोई नहीं जानता की भगवान के मथुरा से द्वारिका आने के बाद राधा रानी के जीवन में आगे क्या घटित हुआ था। 


5. कृष्ण के चाचा के लड़के उद्धव जी अच्छी तरीके से इस बात को जानते थे की कृष्ण ही परमात्मा है। 


6. द्वारिका में भगवान श्री कृष्ण 6 महीने से अधिक नहीं रहे इस बीच वह कभी हस्तिनापुर तो कभी कही और जाते - आते रहते थे। 


यह भी पढ़े -  जानिए 29 या 30 अगस्त किस दिन है जन्माष्टमी ?


Bhagwan Shri Krishna Story in Hindi


7. भगवान श्री कृष्ण ने अपनी पूर्ण शिक्षा मात्र 64 दिन में पूरी कर ली थी जिस शिक्षा को सिखने में करीब 9 साल लगते थे। 


8. भीष्मपिता भी इस बात को भली भांति जानते थे की कृष्ण नारायण के अवतार है। 


9. माना जाता है की वर्तमान में खेले जाने वाला क्रिकेट खेल भगवान श्री कृष्ण भी खेला करते थे। खेलते - खेलते यमुना में बॉल गिरने पर उन्होंने कालिया नाग का भी उद्धार किया था।


10. भगवान श्रीकृष्ण की त्वचा का रंग मेघश्यामल था और उनके शरीर से एक मादक गंध भी निकलती थी।   


11. भगवान श्री कृष्ण ने कलारिपट्टू की नींव रखी जो बाद में बोधिधर्मन से होते हुए आधुनिक मार्शल आर्ट में विकसित हुई। 


यह भी पढ़े -  कृष्ण जन्माष्टमी पर शायरी (हैप्पी कृष्ण जन्माष्टमी शायरी) कृष्ण जन्माष्टमी की हार्दिक शुभकामनाएं


12. भगवान श्री कृष्ण के परमधामगमन के समय ना तो उनका एक भी केश श्वेत था और ना ही उनके शरीर पर कोई झुर्रीया थीं। 


कृप्या इस जानकारी को अपने परिवार एवं दोस्तों में जरूर साँझा करें। भगवान श्री कृष्ण का आशीर्वाद सदैव आप सभी पर बना रहे। 


!! जय श्री कृष्णा !! 


कृष्ण जन्माष्टमी की आप सभी को हार्दिक शुभकामनाएं ।


 !! जय श्री कृष्णा !!


यह भी पढ़े - भगवान श्री कृष्ण (सवाल - जवाब) | Krishna Quiz Questions and Answers in Hindi




No comments:

Post a Comment