हिंदी डेली करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 23 अक्टूबर 2020 - Daily Current Affairs in Hindi



हिंदी डेली करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तरी : 23 अक्टूबर 2020 - Daily Current Affairs in Hindi


प्रश्न - ताइवान 1 अरब डॉलर में उन्नत एयर-टू-ग्राउंड मिसाइल कहा से खरीद रहा है ?

उत्तर - संयुक्त राज्य अमेरिका 


संयुक्त राज्य सरकार ने हाल ही में घोषणा की है कि वह ताइवान को 1 अरब डॉलर की उन्नत एयर-टू-ग्राउंड मिसाइलों की बिक्री करेगी। यह कदम ऐसे समय में आया है जब ताइवान चीन से खतरे के खिलाफ अपने रक्षा बल को मजबूत कर रहा है। अमेरिका ने 135 AGM-84H SLAM-ER मिसाइल, एयर-लॉन्चड क्रूज मिसाइल और संबंधित उपकरणों को बेचने के लिए सहमति व्यक्त की है।


प्रश्न - भारत और इंडोनेशिया देश के बीच कोयले के बारे में 5वें संयुक्त कार्यदल (जेडब्ल्यूजी) की बैठक कहा से आयोजित होगी ?

उत्तर - दिल्ली से वीडियो कॉन्फ़्रेंस के माध्यम से


भारत और इंडोनेशिया के बीच कोयले के बारे में 5वें संयुक्त कार्यदल (जेडब्ल्यूजी) की बैठक 5 नवंबर 2020 को आयोजित होगी। इस बैठक की मेज़बानी भारत कर रहा है। कोविड महामारी के कारण हवाई यात्रा पर लागू प्रतिबंधों के कारण यह बैठक नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ़्रेंस के माध्यम से आयोजित हो रही है।


प्रश्न - नए कृषि कानून को लागू न करने (खारिज) करने वाला पहला राज्य कौनसा है ?

उत्तर - पंजाब 


जानकारी के अनुसार मंगलवार को पंजाब विधानसभा में केंद्र सरकार द्वारा बीते मानसून सत्र में पास किए गए तीन नए कृषि कानूनों को खारिज कर दिया गया है। पंजाब ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य बना है।


प्रश्न - कम लागत वाली कोविड-19 परीक्षण इकाई ‘COVIRAP’, जिसे ICMR द्वारा अनुमोदित किया गया था, किस संस्था द्वारा विकसित की गई थी?

उत्तर – IIT खड़गपुर


IIT खड़गपुर के शोधकर्ताओं की एक टीम ने एक कम लागत वाली कोविड-19 परीक्षण इकाई विकसित की है जिसका नाम ‘COVIRAP’ है। यह कोरोनावायरस के तेजी से निदान के लिए एक पोर्टेबल इकाई है और एक घंटे से भी कम समय में परिणाम उत्पन्न करती है। इसमें सटीक आणविक निदान प्रक्रिया शामिल है और प्रति परीक्षण केवल 500 रुपये का खर्च आता है। टीम ने परिणाम खोजने के लिए एक मोबाइल एप्लिकेशन भी विकसित किया है।


प्रश्न - एयर बबल समझौता किन देशो की बीच हुआ  है ?

उत्तर - भारत और बांग्लादेश 


भारत और बांग्लादेश के बीच अंतरराष्ट्रीय नागरिक‍ उड्डयन सेवाओं को प्रोत्साहन देने के लिए एयर बबल समझौता किया गया है। भारत सरकार की ये सराहनीय पहल द्विपक्षीय है अर्थात 'एयर बबल' समझौता एक द्विपक्षीय करार है जो कि मूल रूप से दो देशों के बीच का हवाई कोरिडोर है. यह हवाई कॉरिडोर कोरोनो-काल में विशेष आवागमन हेतु सुविधा सेतु के रूप में कार्य करेगा। 


प्रश्न - कोविड -19 महामारी से निपटने में सबसे गरीब देशों को विश्व बैंक ने कितनी सहायता राशी देने का एलान किया है ?

उत्तर - 25 बिलियन डॉलर देने की योजना


विश्व बैंक के अध्यक्ष, डेविड मेल्पस ने इस 14 अक्टूबर, 2020 को यह सूचित किया है कि, बैंक ने 25 मिलियन डॉलर के आपातकालीन वित्तपोषण के लिए प्रस्ताव रखा है. यह राशि उन गरीब देशों की मदद करने के लिए है, जो मौजूदा कोविड-19 महामारी के कारण बड़े पैमाने पर चुनौतियों का सामना कर रहे हैं। 


प्रश्न - ब्यूबोनिक प्लेग किस देश में तेजी से फेल रहा है ?

उत्तर - चीन 


जानिए आखिर क्या है ये ब्यूबोनिक प्लेग ?


ब्यूबोनिक प्लेग को 'ब्लैक डेथ' या काली मौत भी कहते हैं। यह कोई नई बीमारी नहीं है बल्कि इसकी वजह से करोड़ों लोग पहले भी मारे जा चुके हैं। अब तक कुल तीन बार यह बीमारी दुनिया पर कहर बनकर टूटी है। पहली बार इसकी चपेट में आने से लगभग पांच करोड़ लोग, दूसरी बार यूरोप की एक तिहाई आबादी और तीसरी बार लगभग 80 हजार लोगों की मौत हुई है। 


कैसे होती है यह बीमारी ? 


यह बीमारी जंगली चूहों में पाए जाने वाली बैक्टीरिया से होती है। दरअसल, सबसे पहले ब्यूबोनिक प्लेग जंगली चूहों को होता है। फिर उनके मरने के बाद प्लेग के बैक्टीरिया पिस्सुओं के जरिए इंसान के शरीर में घुस जाते हैं। जब पिस्सु काटते हैं तो संक्रमण वाले बैक्टीरिया इंसान के खून में मिल जाते हैं, जिससे इंसान भी प्लेग से संक्रमित हो जाता है। ऐसा चूहों के मरने के दो-तीन हफ्ते बाद होता है।


ब्यूबोनिक प्लेग के लक्षण क्या हैं ? 


इस बीमारी में इंसान को तेज बुखार और शरीर में असहनीय दर्द होता है। साथ ही नाड़ी भी तेज चलने लगती है। इसके अलावा दो-तीन दिन में शरीर में गिल्टियां निकलने लगती हैं, जो 14 दिन में ही पक जाती हैं। वही नाक और उंगलियां भी काली पड़ने लगती हैं और ब्यूबोनिक प्लेग फैलाने वाले बैक्टीरिया का नाम यर्सिनिया पेस्टिस बैक्टीरियम है।

No comments:

Post a Comment