जानिए साल 2020 में विज्ञान की महत्वपूर्ण उपलब्धियां - Science Current Affairs 2020 in Hindi



Top Science and Technology Achievements of 2020 in the World in hindi - वैसे तो 2020 कोरोना महामारी के कारण पूरी दुनियाँ के लिए काफी दुःखदाय रहा था लेकिन इस साल विज्ञान ने बहुत से क्षेत्रो में तरक्की की है। आइये जानते है साल 2020 विज्ञान की दुनियाँ के लिए कैसा रहा है। 


1. दवाइयों और औषधियों के क्षेत्र में 


पिछले साल कोरोना महामारी के कारण विज्ञान दवाइयों और औषधियों के क्षेत्र में काफी आगे आया है। पूरी दुनियाँ वैज्ञानिको ने बहुत सी दवाइयों पर रिसर्च भी की है। साथ ही साथ मानव ने भी अपने अंदर रोगो से लड़ने की क्षमता विकसित की है।  


2. सबसे छोटा मेमोरी कार्ड 


2020 में वैज्ञानिको ने दुनियाँ का सबसे छोटा मेमोरी कार्ड भी बनाया है। इस विकास से कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स और ब्रेन-इंस्पायर्ड कंप्यूटिंग के लिए तेज, छोटे और अधिक ऊर्जा-कुशल इलेक्ट्रॉनिक चिप्स का निर्माण हो सकता है. वैज्ञानिकों ने उस पदार्थ विज्ञान को भी खोज लिया है जो इन छोटे उपकरणों के लिए गहन मेमोरी स्टोरेज क्षमताओं को अनलॉक करता है। 


3. एलियन के संकेत 


पिछले साल कुछ अजीबों - गरीब घटनाएँ भी काफी हुई जिन घटनाओं ने वैज्ञानिको को सोचने में काफी मजबूर कर दिया। उनमे से एक है हमें अंतरिक्ष से सकेत मिलना। यानी किसी दूसरे ग्रह से वैज्ञानिकों को कुछ ऐसे संकेत मिले है मानों कोई दूसरे ग्रह से हमे कुछ बताना चाहते हो। यह संकेत 51 प्रकाशवर्ष दूर स्थित ग्रह प्रणाली से आ रहे हैं


4. समुन्द्र में भी मिलेगा अब नेटवर्क 


भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) ने हाल ही में सैटेलाइट आधारित इंटरनेट ऑफ थिंग्स (Internet Of Things) उपकरण सेवा शुरू की है. इसकी वजह से देश की समुद्री सीमा के अंदर किसी भी स्थान से फोन लगाया जा सकेगा, जहां मोबाइल टावर भी नहीं है. इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के डिजिटल इंडिया के विजन के अनुसरण में शुरू किया गया है। 


5. पहला 6G प्रायोगिक उपग्रह लॉन्च


यह साल विज्ञान के लिए काफी अच्छा साबित हुआ इस साल 6G तकनीक का उपयोग भी मानव ने शुरू कर दिया है। चीन ने 6 नवंबर, 2020 को दुनिया का पहला 6G प्रायोगिक उपग्रह सफलतापूर्वक लॉन्च किया है. इस उपग्रह को 12 अन्य उपग्रहों के साथ एक ही रॉकेट में ऑर्बिट में लॉन्च किया गया। 


6. चंदमा पर मिला पानी 


नासा ने एक बार फिर कमाल कर दिखाया है। मंगल ग्रह के आलावा अब चंदमा पर भी जीवन के संकेत मिलते नजर आ रहे है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने हाल ही में चंद्रमा की सतह पर पानी की खोज की है. बड़ी बात यह है कि चंद्रमा की सतह पर यह पानी सूरज की किरणें पड़ने वाले इलाके में खोजी गई है। 


7. Hope हुआ लॉन्च 


इस साल UAE ने भी एक अलग इतिहास रच दिया है। पहला मंगल मिशन HOPE हुआ लॉन्च। सऊदी अरब अमीरात (यूएई) ने हाल ही में जापान के सहयोग से मंगल ग्रह पर अपना अपना पहला इंटरप्लेनेटरी होप प्रोब मिशन शुरू किया. यूएई का मंगल ग्रह के लिए पहला अंतरिक्ष मिशन 19 जुलाई 2020 को जापान के तानेगाशिमा स्पेस सेंटर से लॉन्च हुआ. यूएई का यह मिशन मंगल ग्रह 'होप' नाम से डब किया गया है। 


8. ऑक्‍सफर्ड वैक्‍सीन


कोरोना वायरस को मध्य नजर रखते हुए साल भर में ज्यादातर सभी देशो ने अपनी - अपनी वैक्सीन बनाई है ऐसा पहली बार हुआ है जब इतनी बड़ी महामारी से लड़ने के लिए पूरा विश्व एक हुआ है। ऑक्‍सफर्ड ने भी एमरजेंसी वैक्‍सीन तैयार कर ली है जिसे ब्रिटेन देश ने भी अब मंजूरी दे दी है। 


9. लंबे समय तक अंतरिक्ष में रहने का रिकॉर्ड किया कायम


साल 2020 में क्रिस्टिना कोच ने एक बड़ा इतिहास रच डाला है। अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा की अंतरिक्ष यात्री क्रिस्टीना कोच अंतरराष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन पर लगभग 11 महीने बिताने के बाद 06 फरवरी 2020 को सुरक्षित पृथ्वी पर लौट आईं. अंतरिक्ष में उनका यह मिशन किसी महिला का अब तक का सबसे लंबा मिशन है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, क्रिस्टीना कोच अंतरराष्ट्रीय समयानुसार सुबह 09 बजकर 12 मिनट पर पृथ्वी पर लौटीं। 


10. K-4 परमाणु बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण


इस साल भारत भी विज्ञान के मापदंडो पर खरा उतरा है। सेना की पावर बढ़ाने हेतु साल भर में बहुत सी मिसाइलों का सफल परीक्षण किया गया उनमे से एक है K-4 परमाणु बैलिस्टिक मिसाइल का सफल परीक्षण। आंध्र प्रदेश के समुद्री तट से दागी गई इस मिसाइल की मारक क्षमता 3,500 किलोमीटर है. यह मिसाइल पनडुब्बी से दुश्मन के ठिकानों को निशाना बनाने में सक्षम है. फिलहाल नौसेना के पास आईएनएस अरिहंत ही एकमात्र ऐसी पनडुब्बी है, जो परमाणु क्षमता से लैस है. इस मिसाइल का विकास रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने किया है। 


No comments:

Post a Comment