देश भक्ति शायरी | Desh bhakti Shayari | Gulshan Kumar

देशभक्ति शायरी (Deshbhakti Shayari) – नमस्कार आप अभी का Madhubala.info में स्वागत है , मैं गुलशन कुमार आज कुछ देश भक्ति शायरी प्रस्तुत करने जा रहा हूं कृपया कैसी लगी ? अपना मत जरूर दें ।।

कश्मीर में जब बार- बार सेना पर पत्थर बरसाए जाते है और कश्मीर में गद्दार खुले आम घूमते हो और सेना के जवानों के हाथ सरकार ने बांध रखे हो तब एक शायरी प्रस्तुत की

आदेश थमा कर देखो दुष्टों के तख्त आे ताज बदल देंगे ,
भारत में रहने के सारे सुर और साज बदल देंगे ,
आदेश दीजिए सेना को गोलियों का जवाब गोलियों से देने का ,
सच कहता हूं भारत के खिलाफ जो हो आवाज वो आवाज बदल देंगे ।।
।। इन्कलाब जिंदाबाद ।।
– गुलशन

जब बार बार शहीद होने पर भी कोई भी सरकार आतंकियों पर उचित कदम नहीं उठाती है तब मेरी कलम कहती है –

चन्द दौलत पाने खातिर उन्होंने शहीद किया लाल को ,
अरे क्यों नहीं समझती ये सरकारें दुश्मनों की चाल को ,
गर समझ जाती तो देती हुक्म हर एक भारतीय जवान को ,
कि मिले दुश्मन जहां कहीं खींच लेना उनकी खाल को ।
।। जय हिन्द ।।
– गुलशन

किसी को धन दौलत किसी को प्यार पसंद है और जनाब जब किसी ने हमें पूछा क्या पसंद है तो देखो मुझे क्या पसंद है ?
/
मुझे हिंदी भी पसंद मुझे मेरा हिंदुस्तान पसंद है ,
मेरे देश में इज्जत से रहे वो हर एक मेहमान पसंद है ,
अरे देश से गद्घारी नेता और अभिनेता भी कर लेते है ,
लेकिन वफादारी करे जो देश से वो हर एक इंसान पसंद है ।।

।। वन्दे मातरम् ।।
– गुलशन

और जनाब इंसान हर किसी को पसंद हो सकता है इसलिए मुझे इंसानों में भी थोड़ा अनोखा इंसान पसंद है जरा अगली शायरी पढ़ोगे तो समझ जाओगे

किसी को सूरज पसंद , तो किसी को चांद पसंद है ,
किसी को ये धरती , तो किसी को वो आसमान पसंद है ,
पूछोगे हमें क्या पसंद है ? तो गर्व से कहूंगा कि ,
मुझे खेतों में खड़ा किसान और सीमा पर अड़ा जवान पसंद है ।।
।। जय जवान
जय किसान। ।।
– गुलशन

इसी कड़ी में एक शायरी और जिसमे मुझे किस जगह से प्रेम है कौनसी जगह पसंद है ?

किसी को अजमेर तो किसी को चारों धाम पसंद है ,
किसी को सूफी तो किसी को सतनाम पसंद है ,
हमें पूछा जनाब किसी ने । कि क्या पसंद है ?
कह दिए कि हमें सीमा पर जवान और हिंदुस्तान पसंद है ।।
।। जय जवान ।।
।। जय हिन्दुस्तान ।।

हमारे देश की शान जवान , किसान के साथ तिरंगे से भी है ।
अपने देश के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे के सम्मान में चार पंक्तियां

भारती की आन बान और शान है तिरंगा ,
विजय , विश्व प्यारा ये महान है तिरंगा ,
मिटा दिया पुत्रो ने खुद को इसकी हिफाजत वास्ते ,
ये हर एक भारतीय का भगवान है तिरंगा ।।
।। I Love My Tirnga ।।
– Gulshan

Loading...

Related Post

Gulshan Kumar gk

Shayri lover Article writer in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *